अन्न-धन

अन्न-धन

साउथ एशियन डायलौग ऑन इकोलाजिकल डेमोक्रेसी का फोकस रहता है ‘हरित स्वराज‘ पर उसमें आज जो एक मिलता-जुलता शब्द निकला है और प्रचलन में है वो है ‘सस्टनेबल
पार्थिव कुमार* भारतीय जनता पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लेकर जबर्दस्त उत्साह है। अगले आम चुनावों से कुछ महीने पहले लागू की गयी इस योजना के तहत...
विशाख राठी* बछड़ों से हैं हम -- गूंगे, भूखे  बछड़े हम हैं गऊ -पालक -- पर खाता दूध, मलाई कोई और है     ख़ून पसीने से सींचते हैं खेत, उगाते...

RECENT POSTS