Mudrarakshasa Recent focus on Aatmnirbharta inevitably graduated to techno-nationalism and very quickly degenerated into conspiracy theories of international plot against India. This gives a new excuse for a fresh round of repressive...
व्यंग्य रचना राजेन्द्र भट्ट* पिछली दो कड़ियों में (यहाँ और यहाँ) हम घृणा के टूलकिट को काफी अचूक और कारगर बना चुके हैं। अब देखें कि इसके इस्तेमाल के...
व्यंग्य रचना राजेन्द्र भट्ट* प्रेम के चोर-दरवाज़े से आने वाली विवेक और उदारता की बयार से अपने स्व-घोषित महानतम राष्ट्र-जाति को बचाने वाले घृणा के कुछ हथियारों का हमने...
व्यंग्य रचना राजेन्द्र भट्ट* कुछ संयोग कितने खूबसूरत हो जाते हैं। इस साल वसंत पंचमी और वेलेंटाइन डे एक ही दिन पड़ गए और सुबह-सुबह याद ताज़ा हो...
Mudrarakshasa Mudrarakshasa has written a series of articles for this web-magazine wherein he has dwelt upon the ongoing tussle between the Right and the Left across the world and in India. In this...
Remembering Bapu on his Death Anniversary : An introduction to 'Bapugeetika-Songs for the Mahatma’ by Kalpana Palkhiwala* The 16 feet high statue of Mahatma Gandhi, in a meditating...
Random Thoughts of a Media Monitor* Quite a few things have changed in the last thirty years. The world has, for instance. Generation, obviously. Language. Technology. Aspirations. And so has Indian Television News.
अरविंद सक्सेना* हिन्दी रूपांतर: राजेंद्र भट्ट**    कोविद-19, और उसके बाद आए निर्मम लॉकडाउन के दौर में जब  आहत, बदहवास ‘भारत’ सड़कों-पटरियों पर निकल आया तो कुछ संवेदनशील, विवेकवान लोग...
अरविंद सक्सेना* हिन्दी रूपांतर: राजेंद्र भट्ट**    संघ लोक सेवा आयोग के पूर्व-अध्यक्ष श्री अरविंद सक्सेना के पाँच  लेखों की श्रंखला कोविद-19 के परिप्रेक्ष्य में स्वतन्त्रता के बाद से हमारे...
अरविंद सक्सेना* हिन्दी रूपांतर: राजेंद्र भट्ट**               “तुम्हें एक जंतर देता हूँ। जब भी तुम्हें संदेह हो या तुम्हारा अहम तुम पर हावी होने लगे, तो यह कसौटी आज़माओ:...

RECENT POSTS