आज की बात

आज की बात

कभी-कभी लगता है कि आज के भारतीय मध्यम-वर्ग ने अब वंचितों और आदिवासियों की तरफ से पूरी तरह से मुँह मोड़ लिया है। राजनीतिज्ञों की हम यानि मध्यम वर्ग कड़ी आलोचना करता रहता है (और उसमें कोई बुराई नहीं...
आज की बात 24 अक्तूबर की शाम को यह लिखे जाने तक महाराष्ट्र और हरियाणा की विधानसभाओं के नतीजे या रुझान आ चुके हैं। दिन भर हरियाणा को लेकर टीवी चैनल्स में ये बात...
आज की बात यदि देश के मतदाता ने बहुसंख्यकवाद की भावना में बहकर (या ये सोचकर कि भाजपा के जीतने से हिन्दू हित मजबूत होंगे) 2014 जैसा बहुमत भाजपा को फिर एक...
आज की बात आज जब 30 मई को शाम को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग या एनडीए) की सरकार शपथ ले रही...
इस स्तंभकार के बहुत से जानकार इस बात को लेकर परेशान हो सकते हैं कि उनका ये मित्र लोकपाल विषय को तमाशा बताकर इसे हल्के में क्यूँ ले रहा है।
आज की बात कुछ चीजों से बचा नहीं जा सकता। जैसे आपने ऐसी वैबसाइट बनाई है जिस पर आप आए दिन किसी ना किसी राजनीतिक-सामाजिक मुद्दे पर टिप्पणी करते रहते हैं...
आज की बात वर्ष के आरंभ में ही जब चुनावों के लिए मौसम तैयार हो रहा था तो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी “मिनिमम इन्कम गारंटी” या न्यूनतम आय गारंटी योजना को चुनाव परिदृश्य...
आज की बात राहुल गांधी पिछले हफ्ते भर लंदन में बताए जा रहे थे। आज उनके शपथ लेने की खबर है। हमारी तरफ से वो कहीं भी हों लेकिन चुनाव हारने...
‘खिचड़ी सरकारों’ का कार्यकाल आर्थिक विकास के लिए अच्छा ही रहा है! आज की बात आजकल व्हाट्सएप्प और सोशल मीडिया पर राजनीति के नाम पर जो संदेश आ रहे...
आज की बात इधर करीब तीन-चार महीने पहले जब आर्थिक मंदी या ‘स्लो-डाउन’ की चर्चा ज़ोरों से चलने लगी और 2019 के लोकसभा चुनावों में मिली ज़बरदस्त जीत के तुरंत बाद ही अर्थशास्त्रियों...

RECENT POSTS