बिरसा मुंडा संग्रहालय

झारखंड की चिट्ठी                  नीरज पाठक ...

क्या मकर संक्रांति ही उत्तरायण है?

प्रियदर्शी दत्ता        आज समूचे देश में मकर संक्रांति की धूम होगी। कहीं माघी कहीं संक्रांत कहीं पोंगल तो कहीं...

उत्तरप्रदेश में सपा बसपा का सियासी गठबंधन और लोकसभा 2019 के...

नवनीत चतुर्वेदी 12 जनवरी को आखिरकार उत्तरप्रदेश में बहुप्रतीक्षित समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी यानि  सपा-बसपा गठबंधन का...

सीबीआई प्रकरण – चिंताएँ ही चिंताएँ

सीबीआई को लेकर पिछले दिनों सोशल मीडिया पर इतना कुछ लिखा जा रहा है कि इस स्तंभकार को लगा कि मैं आखिर...

आर्थिक आधार पर आरक्षण का लॉंलीपौप

भाजपा के जो प्रतिबद्ध टाइप वोटर हैं, वह तो थोड़ा-बहुत नाराज़ होते हुए भी उसके पक्ष मे वोट करने जाएँगे ही लेकिन पार्टी के रणनीतिकारों ने क्या इस पर विचार किया कि उसके इस कदम से दलित और पिछड़े वर्ग के लोग भाजपा के खिलाफ ज़्यादा शिद्दत से गोलबंद हो सकते हैं?

जाति के बंधनों को तोड़ने का हर संभव प्रयास करना है

विजय प्रताप आज मुझे ऐसे लोगों के बीच बोलते हुए बहुत अच्छा लग रहा है जो धर्म...

दिल्ली की हवा

आज हम दिल्ली-निवासी जब सुबह सो कर उठे तो फोन हाथ में उठाते ही ये चेतावनी पढ़ने...

बच्चियों के साथ रेप – सिर्फ शर्मिंदा होने से...

आखिरी पन्ना उत्तरांचल पत्रिका मई 2018 क्या सोच रहे हैं आप आजकल? हमारा मतलब यह  कि जब देश-समाज की...

जलवायु परिवर्तन के खतरे

उत्तरांचल पत्रिका आखिरी पन्ना – अप्रैल 2017 अँगरेज़ लोगों की कहावत है कि जब कोई बात ना...