Organic Food: How Much Noble, How Much Muck?

Organic food production is literally much more full of muck (and that is good for nature) than the conventional one. Whether organic...

मत्स्य पीड़ा, प्रेमांकुर और अन्य कवितायें

पारुल बंसल* प्रेमांकुर ऐ फौलादी जिगर के स्वामी!

क्या भारतीय लोकतन्त्र कमज़ोर हो रहा है?

आज की बात आज हिंदुस्तान टाइम्स में प्रथम पृष्ठ पर एक खबर प्रकाशित हुई है जिसके अनुसार हमारा...

HOW SAFE IS THE CELLPHONE RADIATION FOR HUMAN HEALTH?

MK* What is radiation? Is there too much unnatural radiation around us now? The notion...

सनातन वामपंथ – कैसे भिन्न है यूरोप के वामपंथ से

सिद्धार्थ जगन्‍नाथ जोशी* समाज और राज्य – ये दो तंत्र ऐसे हैं जो प्रकृति के विरुद्ध सर्वाधिक अराजकता...

लोकतन्त्र का संरक्षण गरीब के लिए सबसे ज़रूरी

आखिरी पन्ना आखिरी पन्ना उत्तरांचल पत्रिका के लिए लिखा जाने वाला एक नियमित स्तम्भ है। यह लेख पत्रिका...

The Next Stage of Right-wing Mobilization

Mudrarakshasa Recent focus on Aatmnirbharta inevitably graduated to techno-nationalism and very quickly degenerated into conspiracy theories of...

घृणा का टूलकिट -3

व्यंग्य रचना राजेन्द्र भट्ट* पिछली दो कड़ियों में (यहाँ और यहाँ) हम घृणा के...

घृणा का ‘टूल-किट’ -2

व्यंग्य रचना राजेन्द्र भट्ट* प्रेम के चोर-दरवाज़े से आने वाली विवेक और उदारता की...