बेसुरे नक्कारखाने में उम्मीद की तूती की आवाज़

राजेन्द्र भट्ट लगता है कि हम इस समय एक बड़े नक्कारखाने में हैं जिसमें, सीधे-सीधे कहें तो ‘पोस्ट-ट्रुथ’ का...

When Lyrics Overwhelm the Music

Sudhirendar Sharma I have come across quite a few musical compositions that are known more for their lyrics, and...

Interview with Vijay Pratap on Politics and Society

https://www.youtube.com/watch?v=sk1X6QHY1Xc&feature=youtu.be

आर्थिक-मंदी के दौर में पढ़ने लायक किताब

आज की बात इधर करीब तीन-चार महीने पहले जब आर्थिक मंदी या ‘स्लो-डाउन’ की चर्चा ज़ोरों से...

सहकारिता पर क्यों लागू नहीं है आरटीआई

आलोक कुमार* सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों एक ऐतिहासिक निर्णय लिया। देश के मुख्य न्यायाधीश के...

Soulful literary nuggets

Sudhirendar Sharma Poets are known to condense words in a manner that let people realize (later)...

लोहिया के राम और आज का फैसला

आज की बात कुछ चीजों से बचा नहीं जा सकता। जैसे आपने ऐसी वैबसाइट बनाई है...

When lyrics play on your lips

Sudhirendar Sharma  It is often said that you enjoy music when you are in...

गैर-ज़िम्मेवार इलक्ट्रोनिक मीडिया

आखिरी पन्ना ‘आखिरी पन्ना’उत्तरांचल पत्रिका के लिए लिखा जाने वाला एक नियमित स्तम्भ है। यह लेख...