सबको सम्मान से निशुल्क शिक्षा – प्राथमिक शिक्षा पर दूसरी किश्त

राजेन्द्र भट्ट* प्राथमिक शिक्षा पर राजेंद्र भट्ट के पिछले लेख ने कई महत्वपूर्ण प्रश्नों को उठाया और जवाब तलाशने...

एक और आदमीनामा और अन्य कवितायें

योगेन्द्र दत्त शर्मा* कभी जनकवि नज़ीर अकबराबादी ने 'आदमीनामा' लिखा था। उस परंपरा को आगे बढ़ाते हुए लगभग...

मिल कर बजाओ ढाक-ढोल….प्राथमिक शिक्षा पर एक नज़र

राजेन्द्र भट्ट* अपने देश में शिक्षा से जुड़े सवालों पर लिखना चाहता हूँ पर सीमाएं बहुत हैं। एक तो...

उत्तराखंड का पर्यावरण और विकास से जुड़े सवाल

आखिरी पन्ना आखिरी पन्ना उत्तरांचल पत्रिका के लिए लिखा जाने वाला एक नियमित स्तम्भ है। यह लेख पत्रिका के...

Quick weight loss, diabetes and cancer cure: the unseemly promises of...

Manoj Pandey* Fad diets promise the moon, but do they deliver? On WhatsApp, Facebook, YouTube and...

RISING FOREST FIRES : IS CLIMATE CHANGE A CULPRIT?

Manoj Pandey* Is Climate Change responsible for rising forest fires, or is it a fallacy? Some...

स्वस्थ लोकतन्त्र के लिए प्रेस की स्वतन्त्रता ज़रूरी

आखिरी पन्ना आखिरी पन्ना उत्तरांचल पत्रिका के लिए लिखा जाने वाला एक नियमित स्तम्भ है। यह लेख पत्रिका...

EXAMINING EU’S NEW DIGITAL SERVICES ACT – WILL IT TAME THE...

Manoj Pandey* The European Union last week agreed to pass a law to make the digital giants, including social...

कुछ है : उम्मीद की एक कविता

धीरज सिंह* कुछ है जोमुँह बाये खड़े ह्रास के बीच भीअपने शिल्प की ज़िद सींचता रहता है